सेबी ने 331 संदिग्ध मुखौटा कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई का दिया निर्देश

नई दिल्‍ली/संदिग्‍ध शेल कंपनियों के मामले में कई बिल्‍डर, ब्रोकर और बॉलीवुड कंपनियां बलैकमनी जांच के दायरे में आ गई हैं। रेग्‍युलेटरी ऑफिशियल्‍स ने रविवार को यह जानकारी दी है।मार्केट रेग्‍युलेटर सेबी ने 331 लिस्‍टेड कंपनियों को कारण बताओ नोटिस भेजना शुरू कर दिया है। इन कंपनियों पर शेल कंपनियों की तरह काम करने का संदेह है। वहीं, 100.से ज्‍यादा अनलिस्‍टेड कंपनियों पर भी कार्रवाई शुरू की गई है, जिनमें मनी लॉन्‍डरिंग के पैसे से स्‍टॉक्‍स में ट्रेडिंग होने की आशंका है। टॉप रेग्‍युलेटरी और सरकारी सूत्रों ने बताया कि कुछ कंपनियों के मामले में सेबी के फैसले को रिजर्व कर दिया गया है। सेबी ने शेल कंपनियों के शेयरों की ट्रेडिंग रोक दी थी, इसके खिलाफ कई कंपनियों ने सिक्‍युरिटी अपीलेट ट्रिब्‍यूनल (SAT) में अपील की थी, इसके बाद सैट ने सेबी केने सेबी के आदेश को रिजर्व कर दिया। – सैट ने सेबी को सिक्‍युरिटी कानून की अनदेखी करने के मामले की जांच बढ़ाने की इजाजत दे दी है। सेबी की ओर से 331 शेल कंपनियों के शेयरों में ट्रेडिंग रोके जाने के बाद स्‍टॉक मार्केट में ‘पैनिक लाइक सिच्‍युएशन’ पैदा करने को लेकर भी छोटे ब्रोकर्स के रोल.की जांच हो रही है। उन्‍होंने बताया कि सेबी का यह कदम छोटे शेयरहोल्‍डर्स के हितों को सिक्योर रखने के लिए हो सकता है। लेकिन ब्रोकर इस मामले में बहुत छोटे खिलाड़ी हैं, जो कि अपना पैसा वापस निकालना चाहते हैं। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »