बिहार एसएससी पर्चा लीक मामले में आइएएस सुधीर कुमार निलंबित

पटना. बिहार एसएससी पर्चा लीक मामले में इसके अध्यक्ष व आइएएस अफसर सुधीर कुमार को सस्पैंड कर दिया गया है. इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग ने आदेश जारी किया है. बिहार एसआइटी की टीम ने आयोग के अध्यक्ष आइएएस सुधीर कुमार को इस मामले का मुख्य आरोपी बताया था. पिछले दिनों उनकी गिरफ्तारी हजारीबाग स्थित उनके पैतृक आवास से की गयी थी.उधर, सुधीर कुमार के आवास की तलाशी के लिए गुरुवार को एसआइटी को अदालत से सर्च वारंट मिल गया था. यह सर्च वारंट सुधीर कुमार के भांजे सुधीर कुमार से पूछताछ के बाद लिया गया है. ऐसे में संभावना है कि पुलिस हजारीबाग स्थित उनके आवास की भी तलाशी ले सकती है, ताकि उसे कुछ और सबूत हासिल हो सकें.यह सर्च वारंट सुधीर कुमार के भांजे सुधीर कुमार से पूछताछ के बाद लिया गया है. ऐसे में संभावना है कि पुलिस हजारीबाग स्थित उनके आवास की भी तलाशी ले सकती है, ताकि उसे कुछ और सबूत हासिल हो सके.  हमारे हजारीबाग प्रतिनिधि ने बताया है कि सुधीर कुमार के यहां स्थित घर पर सन्नाटा पसरा हुआ है. घर के अंदर उनके पिता हैं.

वहीं, आज इस मामले में आयोग के सचिव परमेश्वर राम की पेशी नहीं हो सकी. परमेश्वर राम की वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से पेशी होनी थी, लेकिन लिंक फेल होने के कारण ऐसा नहीं हो सका. मालूम हो कि बिहार के इस बहुचर्चित परीक्षा घोटाला में आइएएस सुधीर कुमार का नाम आने पर वहां की आइएएस लॉबी ने आंदोलन किया था और राज्यपाल के समक्ष भी अपनी मांग रखी थी. उनके संघ ने कहा था कि अब वे किसी का भी मौखिक आदेश नहीं मानेंगे.

एक और आईएएस अफसर की कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी

बीएसएससीप्रश्नपत्र लीक मामले में एक और आईएएस की गिरफ्तारी हो सकती है। एसआईटी ने उनके खिलाफ साक्ष्य जुटा लिया है। उनपर आरोप है कि उन्होंने सबूत से छेड़छाड़ की है। सूत्रों के अनुसार जेल में बंद आयोग के अध्यक्ष जब छुट्टी पर चले गए तब यह अधिकारी उनके कक्ष में गए और वहां के कंप्यूटर से छेड़छाड़ की है। कुछ फाइल भी ले जाने की बात सामने आई है। सूत्रों का कहना है कि कभी भी उनकी गिरफ्तारी संभव है। गुरुवार को एसआईटी ने अध्यक्ष के केबिन को भी खंगाला। टीम कुछ फाइलाें परीक्षा से जुड़े दस्तावेजों के अलावा इलेक्ट्रानिक उपकरण भी अपने साथ ले गई है। एसआईटी ने वहां मौजूद कर्मियों से इस दौरान लंबी पूछताछ भी की। पूछताछ में कर्मियों ने अहम जानकारी दी है।
कई और चौकाने वाला खुलासा होना बाकी
बीएसएससीप्रश्नपत्र लीक मामले में कई और चौकाने वाला खुलासा होना बाकी है। पूछताछ अन्य साक्ष्यों के बाद कई नेताओं का नंबर भी भी सर्विलांस पर रखा गया है। एसआईटी सूत्रों की माने तो सात नेताओं के मोबाइल नंबर सर्विलांस पर रखे गए हैं। एक नेता के पीएस का सुधीर कुमार को किए गए सिफारिशी मैसेज के बाद नेताओं का नंबर सर्विलांस पर रखा गया है। बताया गया कि सुधीर कुमार के मोबाइल में कई नेताओं और अधिकारियों के मैसेज एसआईटी को मिले हैं। खबर है कि एक और अधिकारी से एसआईटी ने पूछताछ की है। बीएसएससी के इस अधिकारी पर भी सुधीर कुमार और परमेश्वर राम की मदद का आरोप है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »