बीएसएससी लीक कांड-आईएएस सीके अनिल हुए फरार

पटना। बिहार कर्मचारी चयन आयोग (बीएसएससी) की इंटरस्तरीय प्रतियोगी परीक्षा के पेपर लीक कांड में पूछताछ के लिए नोटिस जारी होने के बाद ओएसडी पद पर तैनात आईएएस अधिकारी सीके अनिल भूमिगत हो गए हैं।

नोटिस की अवधि समाप्त होने के बाद एसआईटी के अधिकारी गुरुवार को बीएसएससी कार्यालय गए, जहां वह नहीं मिले। उनकी खोज में पुलिस टीम पुराने सचिवालय स्थित बिहार राज्य योजना परिषद के दफ्तर पहुंची। वहां भी उनका पता नहीं चला।

परिषद में वह परामर्शी पद पर तैनात हैं। एसआईटी की नजर में वह अब फरार हैं। उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की प्रक्रिया में तेजी लाने का निर्णय लिया गया है। 1991 बैच के आईएएस और सचिव स्तर के अधिकारी सीके अनिल बिहार राज्य योजना परिषद में परामर्शी हैं।

उनके पास बीएसएससी के ओएसडी का अतिरिक्त प्रभार है। आज दोनों कार्यालयों में दबिश देने पर एसआईटी को जानकारी मिली कि वह बिना छुट्टी लिए ड्यूटी से गायब हैं। उनकी अनुपस्थिति की पुष्टि के लिए एसआईटी ने अधीनस्थ कर्मचारियों का लिखित बयान लिया है।

वहीं, दूसरी ओर एसआईटी अथवा वरीय पुलिस अधिकारी मामले में कुछ भी कहने से कतरा रहे हैं। पुलिस महकमे के शीर्ष अधिकारी ने मातहतों के नाम एक पत्र जारी किया है, जिसके अनुसार बीएसएससी पेपर लीक मामले की जांच कर रहे किसी अधिकारी को मीडिया से कोई जानकारी साझा नहीं करने को कहा गया है। ऐसे करने पर उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »