गांधीनगर में गरजे मोदी -चुनाव हमारे लिए विकासवाद , उनके लिए (कांग्रेस) वंशवाद की जंग

गांधीनगर.नरेंद्र मोदी सोमवार को गांधीनगर में बीजेपी के गौरव महासम्मेलन में शामिल हुए। इस मौके पर उन्होंने कहा- “एक तरफ वंशवाद में पली पार्टियां हैं। उधर, हमारी संकल्पबद्ध कार्यकर्ताओं की पार्टी है। यही बीजेपी की एक खासियत है। चुनाव हमारे लिए विकासवाद की जंग है, उनके लिए (कांग्रेस) वंशवाद की जंग है। लोकतंत्र मे चुनाव एक यज्ञ होता है। इसमें पार्टी के लोग अच्छा करने की कोशिश करते हैं। मैं अमित भाई को बधाई देता हूं। बीजेपी का विजय ध्वज उन्होंने देश के हर कोने में लहराया है। लोकसभा में यूपी के नतीजों ने चौंकाया था। अभी हमने वहां असेंबली इलेक्शन जीता। मैं कहता हूं कि अब 2019 की छोड़ो, 2024 पर ध्यान दो।

1) जब-जब गुजरात का चुनाव आता है तो उन्हें बुखार आ जाता है
– प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा- “जिस पार्टी ने एक परिवार से इतने नेता दिए, लेकिन, उस पार्टी की भाषा इतनी नीचे गिर सकती है। इसकी वजह क्या है? उन्होंने सकारात्मकता का सहारा छोड़ दिया है, नकारात्मकता को ओढ़ लिया है। जब-जब गुजरात का चुनाव आता है तो उन्हें बुखार ज्यादा आता है। उनको गुजरात आंख में चुभता आया है। इस पार्टी ने वल्लभ भाई और मणिबेन पटेल के साथ क्या व्यवहार किया। मोरारजी देसाईके बारे में क्या फैलाया। वो क्या पीते हैं, क्या नहीं पीते हैं। मोराराजी भाई को नेस्तनाबूद करने के लिए उन्होंने-उन्होंने क्या-क्या नहीं किया।
2) मैं सीएम था, कैसी-कैसी साजिश की गई?
– मोदी ने कहा – “बाबूभाई जसभाई की सरकार को उन्होंने तोड़ दिया। गुजरात वाले को पहले बलि चढ़ाते थे। माधवजी भाई सोलंकी को बोफोर्स मामले में घर भेज दिया गया। ये परिवार ये पार्टी मौका नहीं छोड़ती। उनको खत्म करने के लिए। मैं सीएम था। कैसे-कैसे षडयंत्र किए। आपने सोचा था कि जब तक अमित जी को जेल में नहीं डालेंगे, तब तक मोदी को भी वहां नहीं भेज सकते। सरदार सरोवर की वजह से वो चिढ़ गए हैं। झूठ की भी कोई हद होती है क्या। गुजरात के बच्चे-बच्चे को पता है कि नर्मदा के लिए हमने कितनी कुर्बानी दी।
3) काम करना कांग्रेस के स्वभाव में नहीं
– मोदी ने कहा- “पालीतणाका डैम की नहर नहीं बना पाए वो। हमने प्रधानमंत्री नहर सिंचाई योजना शुरू की। कांग्रेस की सरकारों में 40 साल से प्रोजेक्ट लटके पड़े थे। काम पूरा करना इनके स्वभाव में नहीं है। मैं गुजरात में था तो नागरिकों से सीधा संवाद करता था। दिल्ली में भी सभी सचिवों से मुलाकात करता हूं। पुराने प्रोजेक्ट निकलवाता हूं। संसद में प्रोजेक्ट तो पास कर दिए। लेकिन 40 साल तक वो ऐसे ही पड़े रहे। 12 लाख करोड़ के प्रोजेक्ट शुरू किए।
4) विकास के मुद्दे पर कांग्रेस भागती रही है
– नरेंद्र मोदी ने कहा- “विकास के मुद्दे पर कांग्रेस भागती रही है। मेरी बड़ी इच्छा थी कि कांग्रेस कभी विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़े। लेकिन, वो जातिवाद या बाकी मुद्दों को उठाते रहे। मुझे आशा थी कि इस बार कांग्रेस विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ेगी। लेकिन, ये भी नहीं हुआ।
5) नेहरू ज्योति संघ भूल जाते थे और बार-बार जनसंघ बोल रहे थे
– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- “नेहरू ज्योति संघ के कार्यक्रम में आए थे। लोग कहते हैं कि वहां वो ज्योति संघ भूल जाते हैं और बार-बार जनसंघ बोल रहे थे। आज बीजेपी से इनका कांपना बहुत स्वाभाविक है। इन्होंने कभी हमें गांधी का हत्यारा कहा, कभी शहरी पार्टी कहा। हमें दलित विरोधी कहा- आज हमारे सबसे ज्यादा दलित सांसद हैं। जब कुछ नहीं चला तो विकास को ही गाली देना शुरू कर दिया। कौन कहता है कि गांव को सड़क नहीं चाहिए। कौन कहता है गांव के बच्चों को स्कूल नहीं चाहिए। ये विकास के बिना कैसे संभव होगा।
मोदी ने कहा- “रामायण या महाभारत से सुनते आए हैं। कुछ लोग उस वक्त से यज्ञ में रुकावट डालते आए हैं। इसके बिना उनके पास कोई रास्ता नहीं बचता। सतयुग हो या कलयुग हो। यज्ञ में अड़चनें पैदा करने आते रहेंगे। लेकिन, हमें इस यज्ञ को आगे बढ़ाना है।”
 मोदी ने किए कई ट्वीट
– गुजरात पहुंचने से पहले मोदी ने एक के बाद एक कई ट्वीट किए। इसमें उन्होंने लिखा, “कल (सोमवार को) गांधीनगर में रहूंगा। मैं गुजरात गौरव महासम्मेलन में हिस्सा लूंगा। इसमें पूरे गुजरात के लाखों बीजेपी कार्यकर्ता पहुंचेंगे।”
– “गुजरात गौरव यात्रा लोगों की एकजुटता और गुजरात में विकास की राजनीति और गुड गवर्नेंस में लोगों के अटूट भरोसे को बताती है।”
“दशकों तक बीजेपी को आशीर्वाद देने के लिए मैं गुजरात के लोगों के सामने नतमस्तक हूं। हम पूरी ताकत और पुरुषार्थ से हमेशा हर गुजराती के सपने को पूरा करेंगे।”

182 विधानसभा सीट, 149 से होकर गुजरी गौरव यात्रा

– 1 अक्टूबर से शुरू हुई गौरव यात्रा 15 दिनों तक चली। इसके तहत 4471 किलोमीटर का सफर तय किया।
– इस दौरान यह राज्य की 182 विधानसभा सीटों में से 149 सीटों से गुजरी।
– उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के सीएम भी इस यात्रा में शामिल हुए।
जल्द जारी होगा गुजरात इलेक्शन का शेड्यूल
– हाल ही में इलेक्शन कमीशन ने हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव का शेड्यूल जारी किया था। तब उसने कहा था कि गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीखों का जल्द ही एलान किया जाएगा।
– उधर, कांग्रेस ने दोनों राज्यों के चुनाव शेड्यूल जारी करने में हुई देरी पर बीजेपी पर निशाना साधा है।
– कांग्रेस स्पोक्सपर्सन रणदीप सुरजेवाला ने हाल ही में आरोप लगाया था कि मोदी 16 अक्टूबर को गुजरात का चुनावी दौरा करने वाले हैं। ऐसे में, अगर राज्य में चुनाव की तारीखों का एलान हो जाता तो तो मॉडल कोड ऑफ कन्डक्ट लग जाता और पीएम लोक लुभावने एलान नहीं कर पाते। हालांकि, बीजेपी ने इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है।

पिछली बार अपने गांव गए थे मोदी

– बीते करीब एक महीने (32 दिन) में मोदी का यह चौथा गुजरात दौरा है।
– इससे पहले 14 सितंबर को उन्होंने जापानी के पीएम शिंजो आबे के साथ अहमदाबाद में बुलेट ट्रेन की नींव रखी थी।
– इसके बाद, 17 सितंबर को वे अपने बर्थडे पर भी राज्य में थे।
– 7 अक्टूबर को वे दो दिन के गुजरात दौरे पर पहुंचे थे। तब उन्होंने राजकोट, वडनगर और गांधीनगर में डेवलपमेंट के कई प्रोजेक्ट्स की नींव रखी थी। कुछ प्रोजेक्ट्स का इनॉगरेशन भी किया था। पीएम 8 अक्टूबर को अपने गांव वडनगर भी गए थे और आसपास के इलाके में रोड शो भी किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »