अजय सिंह जो थे प्रमोद महाजन के ख़ास ,2 रुपये में स्पाइस जेट खरीदे और 3 साल में  जोड़े 27 अरब  

दीपक शर्मा
दीपक शर्मा// नई दिल्लीःअगर प्रमोद महाजन आज जीवित होते तो वे शर्तिया  बीजेपी के प्रधानमंत्री होते. ऐसा बीजेपी ही नहीं आरएसएस के भी दिग्गज नेता स्वीकार करते हैं. और आज महाजन प्रधानमंत्री होते तो उनके अमित शाह  यानी  ‘मैंन  फ्राइडे’  अजय सिंह होते. प्रमोद महाजन तो आज दुनिया में नहीं हैं, लेकिन अजय सिंह आज भी सत्ता के गलियारे में खुद को अमित शाह से कम नहीं आंकते  है.

और खुद को मोदी का करीबी बताने लगे अजय

कभी प्रमोद महाजन के  विशेष कार्याधिकारी( ओएसडी) रहे अजय सिंह हवा का रुख भांपने में माहिर हैं.प्रमोद के गुजर जाने के बाद वे मोदी की ओर  झुक गए और उनके प्रबल समर्थक के तौर पर अपना परिचय देने  लगे. 2014  में मोदी के चुनाव  प्रचार में अहम भूमिका निभाने वाले अजय सिंह का दावा है कि उन्होंने ही सुपरहिट नारा दिया था ..’अबकी बार मोदी सरकार.’  ये नारा बाद में इतना लोकप्रिय हुआ कि इसकी नक़ल अमेरिका में डोनाल्ड ट्रम्प तक ने की. लेकिन अजय सिंह  की  दिल्ली के बाजार में हैसियत अब राजनैतिक नारों से कहीं  ज्यादा है. आज वे देश के उन सर्वोच्च तीन उद्योगपतियों में एक हैं, जिन्होंने मोदी सरकार के तीन साल में अपने कारोबार में 600 फीसदी से ज्यादा रिकॉर्ड मुनाफा कमाया है.  अजय सिंह ने पिछले तीन  वर्षों में अपनी कम्पनी स्पाइस जेट का शेयर महज 14  रुपये से 118  रूपए तक पहुंचा दिया है. एयरलाइन के धंधे में ऐसा लाभ अब तक अकल्पनीय था. आज स्पाइस जेट  की संपत्ति 27  अरब रूपए से ज्यादा है.

दो रुपये में एयरलाइन खरीदने की है महारत 

तमिल व्यवसायी और नेता कलानिधि मारन की बात पर यकीन  करें तो उन्होंने दिल्ली हाई कोर्ट में पिछले साल खुलासा किया था कि अजय सिंह ने सिर्फ दो रूपए में उनसे स्पाइस जेट  का नियंत्रण ले लिया था. मारन की बात सही हो या गलत पर ये सच है कि स्पाइस जेट कुछ साल पहले तक बेहद घाटे में चल रही थी लेकिन अजय सिंह के स्पर्श से ही स्पाइसजेट सोने में बदल गयी. यही अजय सिंह का हुनर है. दरअसल स्पाइस जेट को वे दो बार खरीद  चुके हैं.  2004  में खस्ताहाल मोदीलुफ्त एयरलाइन्स को खरीदकर उन्होंने उसका नाम स्पाइस जेट रखा था. जब ये डील हुई थी तब राजनैतिक हलकों में प्रमोद महाजन का दबदबा था. कहने वाले तो कहते हैं की प्रमोद महाजन से नज़दीकी के कारण ही दिल्ली दरबार में अजय सिंह को लोग जानते थे. यही वजह है कि उन्हें स्पाइस जेट को आसमान में उड़ाने की ताकत मिली थी. एक पूर्व आईएएस अफसर के मुताबिक प्रमोद महाजन जब वाजपयी सरकार में सूचना एवं प्रसारण मंत्री थे तब अजय सिंह विशेष कार्याधिकारी नियुक्त किये गए थे. अजय सिंह  उस वक़्त दूरदर्शन के असली बॉस थे.

शाहरुख़ खान के साथ खेलते थे हॉकी और क्रिकेट 

दिल्ली के सेंट कोलम्बस के पढ़े अजय सिंह एक समय में स्कूल की हॉकी और क्रिकेट के कप्तान थे जबकि शाहरुख़ खान टीम में जूनियर थे. अजय सिंह फिर ड्रिब्लिंग करते हुए आगे बढ़े और आईआईटी दिल्ली से निकलकर बिज़नेस के मैदान में उतरे. हालाँकि उन्हें शुरुआती कामयाबी नहीं मिली लेकिन एक बार वो जब प्रमोद महाजन के संपर्क में आये तो सब कुछ बदल गया. महाजन के ज़रिये उनके समबन्ध देश के बड़े उद्योगपतियों से हुए और उसके बाद अजय सिंह ने पीछे मुड़कर नहीं देखा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »