PNB में मिल सकती है इलाहाबाद बैंक-10 सरकारी बैंकों के मर्जर की तैयारी

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) में 6 बैंकों के मर्जर के बाद सरकार कई और पीएसयू बैंकों को मर्ज करने जा रही है। फाइनेंस मिनिस्ट्री के सूत्रों के मुताबिक, इसके.लिए 4 बड़े और 6 छोटे बैंक चुने गए हैं। पहला मर्जर पीएनबी में इलाहाबाद बैंक का 31 जुलाई तक हो सकता है।

इन बैंकों की हुई पहचान… –

फाइनेंस मिनिस्ट्रीसूत्रों के मुताबिक, जिन 6 छोटे बैकों की पहचान हुई है, उनमें यूनाइटेड बैंक, यूको बैंक और यूनियन बैंक शामिल हैं। इन्हें किसी बड़े बैंक में मर्ज किया जा सकताहै।  – बड़े बैंकों में पीएनबी, बैंक ऑफ बड़ौदा और कैनरा बैंक के नाम हैं, जिनमें छोटे बैंकों का मर्जर किए जाने की योजना है। बेंकों के मर्जर की खबरों के बाद बुधवार के कारोबार में बैंक शेयरों में खरीददारी बढ़ गई और शेयर भी खासे चढ़ गए।

विलय की तैयारी लगभग पूरी

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सरकार ने पी.एन.बी. और इलाहाबाद बैंक के विलय की तैयारी लगभग पूरी कर ली है। दोनों बैंकों का विलय 1 अप्रैल 2018 तक लागू हो सकता है और दिसंबर 2017 तक विलय की प्रक्रिया पूरी होगी। इस मर्जर से इलाहाबाद बैंक के निवेशकों को ज्यादा फायदा होगा। मर्जर के तहत इलाहाबाद बैंक के 3 शेयर के बदले पी.एन.बी. के 2 शेयर मिलेंगे।

नॉन-कोर एसेट्स बेचेगा PNB 
विलय की तैयारी के तहत इलाहाबाद बैंक अपने एन.पी.ए. 7000 करोड़ रुपए से घटाकर 5000 करोड़ रुपए तक लेकर आएगा। इलाहाबाद बैंक 1641 करोड़ रुपए के एन.पी.ए. बेचने के लिए बोलियां मंगा चुका है। वहीं, पी.एन.बी. भी ए.आर.सी. को 11000-13000 करोड़ रुपए का एन.पी.ए. बेच सकता है। साथ ही पी.एन.बी. की नॉन-कोर एसेट्स भी बेचने की योजना है।
PunjabKesari
25 फीसदी घटाई जाएंगी बैंक की शाखाएं
दोनों बैंकों के विलय के बाद नए बैंक की शाखाएं 25 फीसदी घटाई जाएंगी। ग्रॉस एन.पी.ए. 12.8 फीसदी से घटाकर 8.5 फीसदी किया जाएगा। सरकार की ओर से 3 चरणों में 7000-8000 करोड़ रुपए की पूंजी डालेगी। हालांकि विलय की खबर पर दोनों बैंकों ने कोई जवाब नहीं दिया।-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »