देश की सबसे यंग IAS बनी 22 साल की स्वाति, पहली ही कोशिश में हुअा सिलेक्शन

श्रीगंगानगर (राजस्थान).  UPSC द्वारा बुधवार को भारतीय प्रशासनिक सेवा परीक्षा 2016 के अंतिम नतीजे जारी कर दिए गए। शुरुआती जानकारी के मुताबिक, श्रीगंगानगर की एक बेटी का आईएएस में चयन हुआ है। श्रीगंगानगर की स्वाति नोखवाल अभी 22 वर्ष की हैं। संभवत: वे सबसे कम उम्र की आईएएस चयनित हुई हैं। ये उनका पहला ही प्रयास था।
 कहीं नहीं ली कोचिंग….
– श्रीगंगानगर के वार्ड 19 निवासी स्वाति नोखवाल ने पहले ही प्रयास में सफलता हासिल की है। 22 साल की स्वाति ने देश में जनरल कैटेगरी में 765 वीं रैंक पाई है। जबकि ओबीसी कैटेगरी में और भी रैंकिंग सुधरने की उम्मीद है।
– स्वाति के पिता इंद्राज नोखवाल रेलवे में श्रीगंगानगर में टीटीई हैं। मां शकुंतला वर्मा सरकारी स्कूल में अध्यापिका है। स्वाति ने सफलता का श्रेय माता-पिता को दिया है।
– रोचक यह है कि स्वाति ने आईएएस की तैयारी के लिए कोई कोचिंग नहीं ली और पहले ही प्रयास में यह सफलता हासिल की है।
ग्रैजुएशन के साथ ही 6 से 7 घंटे नियमित की पढ़ाई 
– स्वाति नोखवाल बताती हैं कि उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी के दौलतराम काॅलेज से वर्ष 2015 में प्रथम श्रेणी से ग्रैजुएशन की है। जहां उन्हें बेस्ट स्टूडेंट अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया। इसके बाद आईएएस की तैयारी में जुट गई।
– प्रतिदिन नियमित 6 से 7 घंटे पढ़ाई की। प्री-परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद 8 से 10 घंटे और मेन में 10 से 12 घंटे स्टडी की है।
– स्वाति बताती है कि जिस समय आईएएस का फॉर्म भरा तब देश के 3000 हजार स्टूडेंट्स में उसकी उम्र सबसे कम थी।
– स्वाति ने 12वीं कक्षा शहर के सेक्रेड हार्ट स्कूल से 90 फीसदी अंक से उत्तीर्ण की थी। स्वाति के भाई शुभम ने भी 12वीं साइंस में इस साल 95 प्रतिशत अंक अर्जित किए हैं।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »