सीएम योगी ने यूपी के ब्यूरोक्रेट को दिखाया आईना, बोले-आपसे कोई खुश नहीं

लखनऊ के विधान भवन के तिलक हाल में गुरुवार से शुरू हुए आईएएस वीक के कार्यक्रम में सीएम योगी ने हल्के-फुल्के अंदाज में ही प्रशासनिक अधिकारियों को बड़ा संदेश दे दिया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आप लोगों से कोई खुश नहीं है।

दूसरे कैडर के अधिकारियों को आपसे शिकायत रहती है कि आप उनके काम प्रमोशन में बाधा पहुंचाते हैं। मुख्यमंत्री का इशारा हाल ही में आईएएस और आईपीएस विवाद की ओर था। मंच पर बैठे हुए डीजीपी की ओर देखते हुए उन्होंने सवालिया लहजे में कहा‌, क्यों ऐसा ही होता है न?

उन्होंने सभी अधिकारियों को नसीहत देते हुए कहा कि आप ऊंची जगह बैठे हैं तो उस हिसाब से परफॉर्मेंस भी दिखनी चाहिए।इस दौरान सीएम ने आईएएस अफसरों को जनोपयोगी सेवाएं बेहतर करने के लिए ​वीक में मंथन करने पर जोर दिया.
सीएम योगी ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर उत्तर प्रदेश के नेतृत्व को बनाये रखने के लिए भारतीय प्रशासनिक अधिकारियों को और अधिक प्रयास करने होंगे. जिलाधिकारियों का जनता और जनप्रतिनिधियों से व्यवहार अच्छा होना चाहिए.जिलाधिकारी से लेकर एसपी, एसएसपी जनसमस्याओं का प्रभावी समाधान सुनिश्चित करें. उन्होंने कहा कि जनता को गुणवत्तापरक प्रशासन उपलब्ध कराने के लिए सत्ता का विकेन्द्रीकरण आवश्यक है. सभी जिलाधिकारी अपने-अपने जनपदों में अवैध खनन पर रोक लगाएं.

इसके अलावा प्रशासन की ‘सक्सेज स्टोरी’ प्रकाशित की जाएं, ताकि लोगों तक उनकी जानकारी पहुंचे. सीएम ने बताया कि जनता की सुविधा के लिए अगले महीने जनवरी से ‘सीएम हेल्पलाइन’ लागू हो जाएगी. इससे जनता से सीधा संवाद ​स्थापिता होगा.जिलाधिकारी किसानों की समस्याओं के प्रति संवेदनशील बनें. शासन की नीतियों की जानकारी जनता तक पहुंचाना और इसका लाभ उन्हें सुनिश्चित करना चाहिए. अधिकारियों की जिम्मेदारी है कि फाइलों के निस्तारण में तेजी लायी जाए.

सीएम योगी ने कहा कि राज्य सरकार काम करने वाले अधिकारियों के साथ खड़ी है. आईएएस वीक के दौरान जनता को बेहतर सेवाएं उपलब्ध कराने के तरीकों पर मंथन किया जाए.

गौरतलब है कि आज से राजधानी में आईएएस वीक की शुरुआत हुई है। 14 से 17 दिसंबर तक चलने वाले इस आयोजन में आज मुख्यमंत्री की ओर से प्रशासनिक अधिकारियों को लंच और शाम को राज्यपाल की ओर से डिनर दिया जाएगा। इसके साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होने हैं।15 दिसंबर को प्रशासन से जुड़े विभिन्न विषयों पर विचार किया जाएगा। वहीं 16 दिसंबर को आईएएस और आईपीएस के बीच मैत्री मैच का अयोजन होगा। इसके साथ ही फोटोग्राफी समेत कई तरह की प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया जाएगा।

पहले दिन मुख्यमंत्री की ओर से प्रशासनिक अधिकारियों को लंच और राज्यपाल की ओर से डिनर दिया जाएगा। इसके बाद शाम के सत्र में सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। 17 दिसंबर को समारोह का समापन होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »