झारखंड: आयकर आयुक्त पर CBI छापे में 3.5 करोड़ नकद, 5 किलो सोना मिला

www.thebureaucratnews.com/झारखंड ब्यूरो /

सीबीआई ने झारखंड के मुख्य आयकर आयुक्त तपस कुमार दत्ता के कोलकाता स्थित आवास पर छापा मारा। इस कार्रवाई में एजेंसी ने 3.5 करोड़ रुपये नकद और पांच किलोग्राम सोना जब्त किया। सीबीआई के प्रवक्ता आरके गौड़ ने बताया कि एजेंसी ने कोलकाता और रांची में कुल 23 स्थानों पर छापेमारी की। इनमें दत्ता और अन्य के आवास भी शामिल हैं। उन्होंने कहा कि दत्ता और अन्य के खिलाफ भष्ट्राचार के आरोपों में एफआईआर दर्ज करने के बाद कोलकाता में 18 और रांची में पांच स्थानों पर छापेमारी की गई। गौड़ ने बताया कि छापेमारी के दौरान एजेंसी ने दत्ता के आवास से 3.5 करोड़ रुपये जब्त किए। इसके अलावा पांच किलो सोना (मौजूदा बाजार मूल्य के हिसाब से 1.4 करोड़ रुपये) भी जब्त किया। कई आपत्तिजनक दस्तावेज भी एजेंसी ने बरामद किए हैं। आरोप है कि दत्ता ने 2016-17 में आयकर विभाग के तीन अन्य अधिकारियों तथा कोलकाता के कारोबारी और एंट्री ऑपरेटर के साथ आपराधिक साजिश की। इस बारे में दत्ता को भेजे गए टेक्स्ट संदेश का जवाब नहीं मिला। एजेंसी के प्रवक्ता ने बताया कि साजिश के तहत दत्ता ने कथित रूप से इस कारोबारी से एक चार्टर्ड अकाउंटेंट के जरिये भारी रिश्वत ली। यह रिश्वत कई लोगों की आयकर फाइलें कोलकाता से रांची के हजारीबाग को स्थानांतरित करने के लिए ली गई। उन्होंने कहा कि कथित रूप से कुछ करदाताओं जिन पर भारी कर देनदारी बनती थी, को अनुचित लाभ पहुंचाने के लिए रिश्वत ली गई। प्रवक्ता ने कहा कि दत्ता ने अपने आधिकारिक स्थिति का दुरुपयोग किया। सीबीआई ने हाल में दत्ता, आयकर अतिरिक्त आयुक्त अरविंद कुमार, आयकर अधिकारी (तकनीकी) रंजीत कुमार लाल, एक अन्य आयकर अधिकारी और चार्टर्ड अकाउंटेंट पवन मौर्या के खिलाफ मामला दर्ज किया है। कोलकाता के कारोबारी और आंचल व्यापार के निदेशक विश्वनाथ अग्रवाल, निजी व्यक्तियों संतोष चौधरी, संतोष शाह, आकाश अग्रवाल और अरविंद अग्रवाल के खिलाफ भी आपराधिक साजिश और भ्रष्टाचार रोधक कानून के तहत एफआईआर दर्ज की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »