IAS अनुराग की मौत का मामला: CBI ने गेस्ट हाउस के 4 वेटर 3 स्वीपर से 3 घंटे की पूछताछ

लखनऊ.IAS अनुराग तिवारी की रहस्यमय हालात में हुई मौत के मामले में बुधवार शाम सीबीआई टीम हरजतगंज स्थित मीराबाई गेस्ट हाउस पहुंची। यहां सीबीआई टीम के साथ अनुराग के बड़े भाई मयंक तिवारी भी मौजूद थे। इस दौरान टीम ने गेस्ट हाऊस के स्टाफ समेत अन्य से करीब तीन घंटों तक पूछताछ भी की। मयंक ने सीबीआई को कई फैक्ट भी दिए।
 गेस्ट हाउस के 4 वेटर 3 स्वीपर से पूछताछ
– सीबीआई ने सबसे पहले गेस्ट हाउस के 4 वेटर, 3 स्वीपर से एक घण्टे पूछताछ की जो अनुराग के रूम में आते जाते रहे।
– टीम ने अबतक अनुराग की मौत से जुड़े हर उस शख्स से बात की है जो मौके पर सबसे पहले पहुंचे थे। वहीं, सीबीआई टीम ने आईएएस अनुराग तिवारी के मौत मामले में भी अपनी जांच तेज कर दी है।
 एसआईटी प्रभारी ने बताया क्या हुई जांच
– सीबीआई टीम ने एसआईटी प्रभारी हजरतगंज सीओ अवनीश मिश्रा और टीम के अन्य लोगों से पूछताछ किया।
– उनसे पूछा कि अनुराग के मौत में उन्होंने क्या पाया। उन्होंने किससे पूछताछ की और किसने क्या बयान दिए।
– साथ ही उस सिपाही से भी बातचीत की है जिसने अनुराग के शव को सबसे पहले सड़क पर पड़ा देखा था।
 मयंक ने सीबीआई को दिए अपने जवाब
– सीबीआई ने अनुराग के बड़े भाई मयंक से कई घंटे बातचीत की और उनसे मौत के बारे में जानकारी की।
– यही नहीं अनुराग के पास जो भी एसएमएस और एविडेंस रहे वो उन्होंने टीम को सौंप दिया हैं।
– मयंक ने बताया कि, उन्होंने सीबीआई को उन दस्तावेजों को भी सौंपा है जिस ओर एसआईटी घ्यान नहीं दे रही थी।
– मयंक ने सीबीआई को एक फाइल भी दिया है, इसमें अनुराग ने करप्शन से जुड़ी कई बाते लिख रखी थी।
 कर्नाटक जाएगी टीम
– गुरुवार देर शाम एक टीम मयंक के साथ कर्नाटक जाएगी, जहां अनुराग तैनात थे।
– सीबीआई बेंगलुरु के अनुराग के ऑफिस और कार्यालय पर जाएगी, जिससे अनुराग की मौत से जुड़ी गुत्थी को सुलझाया जा सके।
 LDA वीसी समेत 5 को पूछताछ के लिए बुलाया
– सीबीआई टीम ने LDA वीसी समेत पांच लोगों को नोटिस देकर गुरुवार को पूछताछ के लिए बुलाया है।
– जिनमें पुलिस कर्मी और दो परिवार के सदस्य शामिल हैं जो कि आईएएस अनुराग तिवारी के मौत के बाद मौके पर पहुंचे थे।
 क्या था मामला
– 19 मई को IAS अधिकारी अनुराग तिवारी लखनऊ के हजरतगंज इलाके में मीरा बाई वीआईपी गेस्ट हाउस के बाहर मृत मिले थे। वह गेस्ट हाउस में दो दिनों से अपने एक बैचमेट के साथ रुके थे। अनुराग गेस्ट हाउस के रूम नंबर 19 में ठहरे थे।
– अनुराग के बैचमेट पी.एन. सिंह ने इस रूम को उनके नाम से बुक किया था और तिवारी की मौत से पहले रात को वह उनके साथ थे। मौत के दिन पी.एन. सिंह सुबह करीब 6 बजे गोमतीनगर स्टेडियम में बैडमिंटन खेलने गए थे। जबकि अनुराग तिवारी मॉर्निंग वॉक के लिए बाहर गए हुए थे। बाद में गेस्ट हाउस से करीब 300 मीटर दूर तिवारी का शव मिला था।
– तिवारी ने इंजिनियरिंग की पढ़ाई की थी और जुलाई 2007 में उनका IAS के लिए चयन हुआ था। अनुराग तिवारी मूल रूप से यूपी के बहराइच जिले के रहने वाले थे। वह बेंगलुरु में फूड ऐंड सिविल सप्लाइज कमिश्नर के पद पर तैनात थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »