सीबीआई ने औरंगाबाद डीएम के छह ठिकानों पर मारा छापा

पटना.सीबीआई ने शुक्रवार को औरंगाबाद जिले के डीएम कंवल तनुज के छह ठिकानों पर छापा मारा है। जमीन अधिग्रहण में गड़बड़ी के मामले में सीबीआई ने यह कार्रवाई की है। सीबीआई के अधिकारी औरंगाबाद स्थित डीएम आवास की तलाशी कर रहे हैं। वे डीएम के जमीन और बैंक डिटेल संबंधी पेपर की जांच कर रहे हैं। नोयडा और लखनऊ स्थित डीएम के घर पर भी सीबीआई ने छापा मारा है।

जमीन अधिग्रहण से जुड़ा है मामला

औरंगाबाद में एनटीपीसी के लिए जमीन अधिग्रहण किया गया था। जमीन अधिग्रहण में पैसे को लेकर डीएम और एनटीपीसी के अधिकारियों पर गड़बड़ी करने का आरोप लगा था। इस मामले की जांच कर रही सीबीआई के राडार पर एनटीपीसी के कई अधिकारी भी हैं।

बता दें कि 2017 में औरंगाबाद जिले के नवीनगर में NTPC और भारतीय रेल बिजली कंपनी लिमिटेड ने मिलकर बिजली का उत्पादन शुरू किया. यहां की बिजली से मुंबई की लोकल ट्रेन दौड़ रही है. मुंबई रेलवे 2 अगस्त 2017 से इस परियोजना से 140 मेगावाट बिजली खरीदने लगी है. इस परियोजना के पहले यूनिट से 250 मेगावाट बिजली उत्पादन किया जा रहा है. परियोजना की दूसरी यूनिट से 250 मेगावाट बिजली का कमर्शियल उत्पादन का ट्रायल भी सफल रहा था.आरोप हैं कि बीआरबीसीएल के सीईओ सी शिव कुमार, डीएम तनुज और कंपनी और जिला प्रशासन के अधिकारियों और गोपाल प्रसाद सिंह नाम के व्‍यक्‍त‍ि के साथ मिलकर इस जमीन के फर्जी कागजात तैयार किए. इन दस्‍तावेज में सिंह को मालिक दिखाया गया और उसके नाम पर जमीन का मुआवजा आवंटित किया गया. दर्ज एफआईआर के मुताबिक, बिहार कैडर के आईएएस तनुज ने फर्जी कागजात तैयार कर 2 करोड़ रुपए से ज्‍यादा सिंह के जरिए हासिल किए. अब सिंह की मौत हो चुकी है.

जानकारी के मुताबिक CBI ने 21 फरवरी को कलेक्टर कंवल तनुज के खिलाफ केस दर्ज किया था. CBI ने कलेक्टर कंवल तनुज के अलावा BBCL के CEO शिव कुमार को भी आरोपी बनाया है. छापेमारी का नेतृत्व CBI के एसपी राजेश रंजन कर रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक कंवल तनुज के कई ठिकानों पर छापेमारी को अंजाम दिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »