राष्ट्रपति की सुरक्षा में चार साल में खर्च हुए 155.4 करोड़ रुपये

राष्ट्रपति की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मियों को पिछले चार साल में वेतन के रूप में 155.4 करोड़ रुपये देने पड़े हैं. लखनऊ स्थित आरटीआई एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर द्वारा प्राप्त सूचना के अधिकार के तहत हासिल जानकारी में यह खुलासा हुआ है.

राष्ट्रपति की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मियों को पिछले चार साल में वेतन के रूप में 155.4 करोड़ रुपये देने पड़े हैं. लखनऊ स्थित आरटीआई एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर द्वारा प्राप्त सूचना के अधिकार के तहत हासिल जानकारी में यह खुलासा हुआ है.

पिछले 04 साल में राष्ट्रपति के साथ लगे सुरक्षाकर्मियों के सैलरी पर 155.4 करोड़ का खर्च आया है. इसमें वित्तीय वर्ष 2014-15 में रु० 38.17 करोड़, 2015-16 में रु० 41.77 करोड़, 2016-17 में रु० 48.35 करोड़ तथा 2017-18 में अब तक रु० 27.11 करोड़ शामिल है.

इन 04 वर्षों में राष्ट्रपति के सुरक्षाकर्मियों के मूवमेंट हेतु लगी गाड़ियों के रखरखाव में रु० 64.9 लाख का व्यय आया. इसमें 2014-15 में रु० 15.5 लाख, 2015-16 में रु० 20 लाख, 2016-17 में रु० 21.8 लाख तथा 2017-18 में अब तक रु० 7.5 लाख शामिल है. इसमें इन गाड़ियों के ईंधन पर हुआ खर्च शामिल नहीं है क्योंकि वह सरकारी पेट्रोल पम्प से प्राप्त होता है.

डीसीपी, राष्ट्रपति भवन, नई दिल्ली ने जीवन तथा शारीरिक सुरक्षा को खतरा होने के आधार पर राष्ट्रपति के साथ लगे सुरक्षाकर्मियों की कुल संख्या तथा उन सुरक्षाकर्मियों के मूवमेंट हेतु लगाई गई गाड़ियों की संख्या बनाने से मना कर दिया.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »