नए साल पर यूपी के 18 IPS को प्रमोशन का तोहफा

लखनऊ/भारतीय पुलिस सेवा के 18 अधिकारी जल्द पदोन्नत होंगे। सरकार नए साल पर इन्हें प्रोन्नति का तोहफा देगी। मुख्य सचिव राजीव कुमार की अध्यक्षता में गुरुवार को डीपीसी की बैठक हुई। इसमें 1987 बैच के तीन, 1993 बैच के आठ, 2000 बैच के तीन और 2004 बैच के चार अफसरों के प्रमोशन को मंजूरी मिल गई। बैठक में 2005 बैच के तीन आईपीएस + अफसरों को छोड़कर बाकी को सिलेक्शन ग्रेड दे दिया गया है। तीन में जे रवींद्र गौड़, सुभाष चंद्र दुबे और सत्येंद्र कुमार सिंह हैं। इनका लिफाफा बंद कर दिया गया है।

प्रोन्नति के बाद 1987 बैच के तीन आईपीएस एडीजी से डीजी होंगे। इनमें एडीजी एसआईटी जीएल मीना, एडीजी मानवाधिकार डीएल रत्नम और एडीजी पीएसी राज कुमार विश्वकर्मा हैं। प्रदेश में डीजी पद पर तैनात अधिकारियों के रिटायरमेंट के साथ इन अफसरों को डीजी पद पर प्रोन्नति मिलेगी।

1993 बैच के आईपीएस आईजी से एडीजी के पद पर प्रमोट होंगे। एडीजी बनने वाले अफसरों में आईजी संजय सिंघल, सुनील कुमार गुप्ता, एसबी शिरडकर, हरिराम शर्मा, प्रेम प्रकाश, केएसपी कुमार, जकी अहमद, वितुल कुमार हैं। इनके साथ 2000 बैच के तीन अफसरों को डीआईजी से आईजी पद पर प्रमोशन मिलेगा।

आईजी बनाए जाने वाले अफसरों में डीआईजी संजय कक्कड़, गोरखपुर की डीआईजी निलाब्जा चौधरी और लक्ष्मी सिंह हैं। डीपी श्रीवास्तव का लिफाफा बंद कर दिया गया है। डीपीसी में 2004 बैच के जिन चार अफसरों को डीआईजी पद पर प्रोन्नति देने पर सहमति बनी, उनमें एसएसपी नोएडा लव कुमार, एसएसपी मुरादाबाद प्रीतिंदर सिंह, एसएसपी बदायूं चंद्र प्रकाश द्वितीय और सीबीसीआईडी  में तैनात एसपी डॉ. के एजिलारसन शामिल  हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »