देश में दुष्कर्म के सबसे ज्यादा आज भी मध्यप्रदेश में,तेलंगाना 18 से 30 साल की महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित

नई दिल्ली. तेलंगाना के हैदराबाद के पास गुरुवार तड़के 26 साल की वेटरनरी डॉक्टर की दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई। स्कूटी पंक्चर होने की वजह से यह डॉक्टर टोल प्लाजा पर थी। ट्रक ड्राइवर और क्लीनर पंक्चर बनवाने के बहाने उसे ले गए और दुष्कर्म किया।साइबराबाद पुलिस ने इस मामले में शुक्रवार को चार आरोपियों को गिरफ्तार किया। ये ट्रक ड्राइवर और क्लीनर हैं। इन्होंने शराब पीने के बाद डॉक्टर को सात घंटे तक बंधक बनाए रखा और सामूहिक दुष्कर्म किया। इसके बाद शव को 30 किमी दूर ले जाकर आग लगा दी।

वेटरनरी डॉक्टर शादनगर में रहती थी और यहां से करीब 30 किलोमीटर दूर शम्शाबाद में एक वेटनरी हॉस्पिटल में काम करती थी। वह हर दिन हैदराबाद-बेंगलुरु नेशनल हाईवे स्थित तोंडुपल्ली टोल प्लाजा पर अपना टू-व्हीलर पार्क करती थी और वहां से कैब लेकर अस्पताल तक जाती थी। डॉक्टर से बुधवार रात से गुरुवार तड़के तक दुष्कर्म हुआ। शुक्रवार को यह मामला देशभर में सुर्खियों में आया।

तेलंगाना के गृहमंत्री मो. महमूद अली ने कहा- अफसोस की बात है कि डॉक्टर ने पढ़ी-लिखी होने के बावजूद अपनी बहन को फोन किया। अगर वह 100 नंबर पर कॉल कर देती तो वह सेफ रहती। हम लोगों में जागरुकता लाएंगे कि 100 नंबर पर फोन किया करें। पुलिस तीन मिनट में पहुंच जाती है।

नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो यानी एनसीआरबी के आंकड़े बताते हैं कि 18 से 30 साल की महिलाओं के लिए तेलंगाना देश में सबसे असुरक्षित राज्य है। 2017 में यहां दर्ज दुष्कर्म के कुल मामलों में 91% पीड़ित इसी आयु वर्ग की हैं, जो देश में सबसे ज्यादा है। हालांकि, दुष्कर्म के सबसे ज्यादा मामले मध्यप्रदेश में सामने आए हैं।

18 साल से कम की बच्चियों के लिए तेलंगाना सबसे सुरक्षित
दूसरा पहलू यह है कि 18 से 30 साल की महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित तेलंगाना 18 से कम उम्र की बच्चियों के लिए सबसे सुरक्षित राज्यों में शामिल है। 2017 में यहां 18 से कम उम्र की बच्चियों से दुष्कर्म का एक भी मामला सामने नहीं आया। ऐसे राज्यों में मिजोरम, सिक्किम, तमिलनाडु, दादरा-नगर हवेली, दिल्ली, लक्षद्वीप और पुदुचेरी भी शामिल हैं।

देश में दुष्कर्म के सबसे ज्यादा मामले मध्यप्रदेश में
एनसीआरबी की रिपोर्ट के मुताबिक, 2017 में देश में दुष्कर्म के कुल 32,559 मामले दर्ज किए गए। दुष्कर्म के 93% मामलों में आरोपी परिचित या रिश्तेदार हैं, सिर्फ 7% मामलों में आरोपी अपरिचित थे। दुष्कर्म के सबसे ज्यादा 5,562 मामले मध्यप्रदेश में दर्ज हुए हैं। उत्तर प्रदेश दूसरे और राजस्थान तीसरे नंबर पर है। मध्यप्रदेश 18 साल से कम उम्र की बच्चियों और 60 साल से ज्यादा उम्र की महिलाओं से दुष्कर्म के मामले में भी देश में पहले नंबर पर हैं। देश में 60 से ज्यादा उम्र की महिलाओं से दुष्कर्म के 139 मामले सामने आए। इनमें सबसे ज्यादा 46 मामले मध्यप्रदेश में हुए।

गैंगरेप के बाद मर्डर के मामलों में यूपी अव्वल
रिपोर्ट में यह भी खुलासा हुआ है कि गैंगरेप के बाद पीड़ित के मर्डर के मामले में उत्तर प्रदेश देशभर में अव्वल है। यहां ऐसे सबसे ज्यादा 64 मामले सामने आए हैं। इसे मिलाकर देश में सिर्फ 4 राज्य ऐसे हैं, जहां गैंगरेप के बाद मर्डर के मामले डबल डिजिट में सामने आए हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Translate »