कहानियों में उलझी सुपरस्‍टार श्रीदेवी मौत की गुत्थी , बोनी कपूर का खुलासा क्‍या, हुआ था उस रात

बॉलीवुड की पहली फीमेल सुपरस्‍टार श्रीदेवी के अचानक निधन से सभी स्‍तब्‍ध रह गए। अब उनके पति बोनी कपूर ने इस राज से पर्दा उठाया है -इससे कहानियों की कड़ी में एक कहानी और जुडती है . उनकी मौत के तीन द‍िन बाद तक सभी यही समझते रहे क‍ि श्रीदेवी की मौत कार्ड‍ियक अरेस्‍ट की वजह से हुई है। लेकिन पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट ने उनकी मौत का राज और गहरा द‍िया। इस रिपोर्ट में बताया गया क‍ि श्रीदेवी का निधन दुर्घटनावश डूबने से हुआ। दुबई के जुमैरा एमिरेट्स टावर होटल के कमरा नंबर 2201 में श्रीदेवी ने 24 फरवरी यानी गुरूवार की दोपहर को चेक इन किया. इसके बाद अगले 48 घंटे तक वो अपने कमरे में ही अकेली रहीं. एक बार भी बाहर नहीं निकलीं. कमरे से बाहर निकली तो बस उनकी मौत की खबर. ये खबर भी एक डॉक्टर ने दी.

होटल के बाथटब में श्रीदेवी को बेहोशी की आलम में देखने के बाद उसी डॉक्टर ने सबसे पहले बताया कि उनकी मौत हो चुकी है. वजह बताई कार्डियक अरेस्ट. लेकिन 48 घंटे बाद पोस्टमार्टम रिपोर्ट मौत की वजह बाथटब में डूबना बताती है. पुलिस ये जानना चाहती है कि ये डॉक्टर की गलती भर थी या फिर कहानी कुछ और है?

श्रीदेवी की मौत की इतनी सारी जो वजहें सामने आईं उसे लेकर किसी नतीजे पर पहुंचने से पहले दो अहम चीज जान लीजिए. पहली ये कि दुबई पुलिस ने साफ कर दिया है कि श्रीदेवी की मौत एक हादसा है कोई साज़िश नहीं. और दूसरी ये कि फिर भी उनकी मौत की जांच की जाएगी. इस बारे में उनके तमाम करीबिय़ों से पूछताछ होगी.

उनके पति बोनी कपूर से तो रविवार और सोमवार को दुबई पुलिस ने पूछताछ भी की है. श्रीदेवी की मौत की जांच दुबई पुलिस से लेकर दुबई पब्लिक प्रॉसिक्यूशन को सौंप दी गई है. अब आइए जानते हैं कि आखिर 24 फरवरी यानी शनिवार को दुबई के जुमैरा एमिरेट्स टावर होटल के कमरा नंबर 2201 में हुआ क्या था?

दरअसल श्रीदेवी इस होटल में दो दिन पहले ही आई थीं इससे पहले वो दुबई के करीब रसल खेमा में थीं. वहां उनके पति बोनी कपूर के भांजे की शादी थी. शादी के बाद बोनी कपूर और उनकी छोटी बेटी मुंबई लौट आए थे. जबकि श्रीदेवी दुबई में रुक गईं. दुबई में श्रीदेवी की बहन भी रहती हैं.

होटल स्टाफ के मुताबिक, श्रीदेवी 48 घंटे तक होटल के अपने कमरे से बाहर नहीं निकलीं थीं, इस दौरान वो लगातार अकेली थीं, उधर बोनी कपूर भारत लौटने के बाद लखनऊ चले गए थे, जहां इनवेस्टर समिट थी. लखनऊ से लौट कर वो फिर मुंबई आए. मुंबई में उनके एक दोस्त शेट्टी का जन्म दिन था.

इसके बाद 24 फरवरी को दोपहर की फ्लाइट से वो वापस दुबई जाते हैं. उनके दुबई आने की खबर श्रीदेवी को नहीं थी. देर शाम वो होटल पहुंच कर श्रीदेवी को सरप्राइज देते हैं. इस बीच लगभग उसी वक्त बोनी कपूर के भाई संजय कपूर दुबई से मुंबई लौट रहे होते हैं. उनकी भी श्रीदेवी से कोई मुलाकात नहीं होती है.

 फ‍िल्‍म एनालिस्‍ट कोमल नाहटा ने अपनी एक पोस्‍ट में बोनी कपूर के साथ हुई बातचीत को विस्‍तार से लिखा है जिसमें सामने आया क‍ि श्रीदेवी की मौत से पहले क्‍या हुआ था और कैसे बस 20 मिनट में ही मृत्‍यु ने अपनी क्रूरता साबित कर दी। कोमल नाहटा ने ल‍िखा है क‍ि श्रीदेवी को बोनी कपूर तभी से ही छोटे-छोटे प्‍यार भरे सरप्राइज देते आए हैं, जब उन्‍होंने मिस्‍टर बेचारा की शूटिंग के दौरान ‘रूप की रानी’ प्रपोज क‍िया था। वह दुबई में अपनी बहन के बेटे मोहित मारवाह की शादी में शामिल होने के लिए श्रीदेवी और छोटी बेटी खुशी के साथ गए थे। शादी का प्रोग्राम पूरा होने के बाद वह 22 फरवरी को एक लखनऊ में एक मीटिंग अटेंड करने के लिए खुशी के साथ लौट आए। जबकि श्रीदेवी वहीं रुकीं क्‍योंकि वह बड़ी बेटी जान्हवी के लिए शॉपिंग करना चाहती थीं जो अपनी पहली फ‍िल्‍म की शूटिंग की वजह से उनके साथ नहीं आ पाई थी।हालांकि श्रीदेवी के पास 21, 22 और 23 का वक्‍त था लेकिन वह तब शॉपिंग नहीं कर पाईं। इस दौरान उन्‍होंने अपना वक्‍त होटल के कमरे में बिताया। 24 की सुबह को श्रीदेवी से जब बोनी ने बात की तो उन्‍होंने कहा – ‘पापा’  मैं तुम्‍हें मिस कर रही हूं। श्रीदेवी प्‍यार से बोनी को पापा कहती थीं। इस पर बोनी ने भी कहा क‍ि वह भी उनको मिस कर रहे हैं। लेकिन यह नहीं बताया क‍ि वह शाम की दुबई की फ्लाइट बुक कर चुके हैं। इसका आइड‍िया भी जान्‍हवी ने ही बोनी को द‍िया था क्‍योंकि वह जानती थी क‍ि उसकी मां को अकेले रहने की आदत नहीं है और इस दौरान वह कोई डॉक्‍युमेंट भी गुम कर सकती हैं।

शादी के बाद यह पहला मौका था जब श्रीदेवी पूरे दो द‍िन के लिए विदेश में अकेली थीं
हालांकि इससे पहले वह दो बार बोनी के बिना विदेश गई थीं लेकिन तब बोनी ने अपने दोस्‍त की वाइफ को उनका ध्‍यान रखने के लिए उनके साथ भेजा था। 24 फरवरी को बोनी ने दोपहर 3:30 बजे की फ्लाइट ली और श्रीदेवी को सरप्राइज देने के लिए पहले ही बता द‍िया क‍ि मीटिंग में होने की वजह से वह अगले कुछ घंटे उनसे बात नहीं कर पाएंगे। बोनी के अनुसार – शाम 6:30 बजे के करीब वह दुबई के होटल पहुंचे जहां श्रीदेवी ठहरी थीं और डुप्‍ल‍िकेट चाबी से उनके कमरे में आ गए। उनको देखकर श्रीदेवी बेहद खुश थीं और ये भी बोलीं क‍ि कहीं न कहीं वह जानती थीं क‍ि बोनी उनसे मिलने जरूर आएंगे। श्रीदेवी और बोनी में इसके बाद आधा घंटा बात हुई। तब श्रीदेवी ने अपना शॉपिंग का प्‍लान चेंज क‍िया और दोनों ने फैसला क‍िया क‍ि वे 25 फरवरी की रात को दुबई से वापस इंड‍िया लौटेंगे।

होटल के कमरे के अंदर की दो कहानी है. एक कहानी कहती है कि बोनी कपूर पहले होटल पहुंचते हैं. श्रीदेवी से कुछ देर तक बात करते हैं और फिर श्रीदेवी को बाहर डिनर पर ले जाने के लिए तैयार होने को कहते हैं. इसी के बाद श्रीदेवी बाथरूम में जाती हैं. मगर जब पंद्रह मिनट तक दरवाजा नहीं खुलता तो वो आवाज देते हैं.इसके बाद दोनों ने रोमांटिक ड‍िनर का प्‍लान बनाया और श्रीदेवी फ्रेश होने के लिए मास्‍टर रूम के बाथरूम में चली गईं। जबक‍ि बोनी लिव‍िंग रूम में टीवी पर मैच देखने लगे। 15-20 मिनट बाद जब श्रीदेवी नहीं आईं तो उन्‍होंने टीवी की आवाज कम करके उन्‍हें आवाज दी। बोनी प्‍यार से श्रीदेवी को जान कहते थे और  उन्‍होंने उनको इसी नाम से पुकारा। लेकिन कोई जवाब न मिलने पर वह दरवाजा खोलकर अंदर चले गए। दरवाजा को अंदर से कुंडी नहीं लगी थी। धक्का देकर दरवाजा खोलते हैं. श्रीदेवी अंदर बाथटब में बेहोश पड़ी थीं. इसी के बाद बोनी कपूर पहले अपने एक दोस्त और फिर पुलिस को फोन करते हैं. दूसरी कहानी ये है कि जिस वक्त श्रीदेवी बाथरूम में गईं तब बोनी कपूर होटल में ही नहीं थे. श्रीदेवी ने रूम सर्विस को फोन कर पीने का पानी मंगाया था.

इसके बाद वो बाथरूम में चली गईं. कुछ देर बाद जब होटल का स्टाफ पानी लेकर आया तो काफी बेल बजाने पर भी जब दरवाजा नहीं खुला तो वो खुद ही कमरे में आ गया. इसके बाद में उसने पाया कि श्रीदेवी बाथटब में बेहोश पड़ी हैं. इसे बाद उसी ने पहले होटल और फिर पुलिस को इसकी खबर दी.बोनी ने अपनी इस बातचीत में बताया क‍ि अंदर के नजारे से उनके पैरों तले जमीन ख‍िसक गई क्‍योंक‍ि श्रीदेवी बाथटब में पूरी तरह डूबी हुई थीं। वह हिल-डुल नहीं रही थीं। बोनी का कहना है कि ये अभी भी पता नहीं लगा क‍ि वह डूबने से बेहोश हो गईं या फ‍िर उनके डूबने की वजह उनकी बेहोशी बनी। लेकिन बाथटब के बाहर पानी नहीं गिरा था। इससे ये अंदाजा लगाया जा रहा है क‍ि उन्‍होंने खुद को बचाने के लिए संघर्ष नहीं क‍िया और जो हुआ अचानक हुआ जिसके बाद से श्रीदेवी बस एक ऐसी याद बन गईं, जो जब आएगी होठों पर हंसी और आंखों में नमी एक साथ ले आएगी !

हालांकि दुबई पुलिस ने रिपोर्ट दे दी है कि श्रीदेवी की मौत की वजह पानी में डूबना है. मगर ये आखिरी रिपोर्ट नहीं है. इस मामले की जांच कर रही है दुबई पब्लिक प्रॉसिक्यूशन का कहना है कि पांच चीजों की जांच पूरी होने के बाद ही किसी नतीजे पर पहुंचा जा सकता है. पुलिस जानना चाहती है कि आखिरी पलों में कमरा नंबर 2201 में हुआ क्या था?

श्रीदेवी ने अल्कोहल खुद लिया या किसी ने जानबूझ कर ज्यादा दे दी? बाथटब में पानी लबालब कैसे भरा था? बाथटब में श्रीदेवी को बेहोश देखने के बाद बोनी कपूर ने पुलिस या होटल स्टाफ को फोन करने की बजाए अपने दोस्त को सबसे पहले फोन क्यों किया? हालांकि, दुबई पुलिस श्रीदेवी की मौत को हादसा तो बता रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »